Apna Khata Rajasthan – राजस्थान अपना खाता, खसरा खतौनी, ऑनलाइन जमाबंदी

For all the residents of Rajasthan, we have a great news. Now, you all can see the information regarding your land and your farms online. Yes, you heard it right, all these facilities are available online and it can be checked easily with the help of the internet.

We have the facility of the Apna Khata Jamabandi Nakal Rajasthan Portal where all the information is available. This has been made possible with the help of the Revenue Department of the Government of Rajasthan. All the information related to land will be available on the online portal which you can access easily.

Do not worry of you don’t know how to access it, as we will help you with the complete information on how to check your land details on the Apna Khata Jamabandi Nakal Portal.

अपना खाता जामबन्दी नक़ल 2019

राजस्थान के सभी निवासियों के लिए एक खुशखबरी है | अब आप सब राजस्थान अपना खाता ऑनलाइन जमाबंदी नक़ल 2019 की सहायता से अपने खेतों और जमीनों की जानकारी ले सकते हैं | ये सुविधा राजस्थान के निवासियों और भूलेख अधिकारीयों, दोनों के लिए ही फायदेमंद है |

जानकारी ऑनलाइन होने की वजह से इसे आसानी से देखा जा सकता है | इसके कई लाभ हैं जिनके बारे में हम अभी जानेंगे | अपना खाता ऑनलाइन जमाबंदी की वेबसाइट की जानकारी भी नीचे दी गई है | नीचे दी जानकारी को पढ़िए और जानिए की किस तरह से आप इस ऑनलाइन पोर्टल का इस्तेमाल कर सकते हैं |

राजस्थान अपना खाता जमाबंदी की शुरुवात

राजस्थान अपना खाता जमाबंदी की शुरुवात सं २०१७ में हुई | इस राजस्थान अपना खाता ऑनलाइन सेवा को राजस्थान राज्य सरकार द्वारा शुरू किया गया है |

रेवेनुए डिपार्टमेंट ने इस सुविधा की शुरुवात राजस्थान के निवासियों को ध्यान में रखकर की थी जिससे की सभी राजस्थान निवासी आसानी से अपनी भूमि व खेतों की जानकारी ले सकें | अन्यथा सभी निवासियों को कई दिनों तक दफ्तर के चक्कर लगाने पड़ते थे | अब जमाबंदी खसरा खतौनी का प्रयोग करके अपने जमीन के नक़्शे को आसानी से देखा जा सकता है |

राजस्थान अपना खाता ऑनलाइन सेवा की जानकारी

इंटरनेट की मदद से घर बैठे हुए ही लोग अपने खेतों के नक़्शे व उससे संभंधित जानकारी ले सकते हैं | इस सुविधा के ऑनलाइन होने से लोगों को कई लाभ हुए हैं | राजस्थान अपना खाता भूलेख ऑनलाइन सुविधा जैसी अन्य सुविधा अब कई प्रदेशों में शुरू की जा रही है |

भूलेख शब्द से मतलब है की जमीन और खेतों के बारे में लिखित रिकॉर्ड और खसरा सब्द से मतलब है खेतों से संभंधित कागजी जानकारी | इसमें न सिर्फ जमीनों और खेतों के बारे में लिखा होता है बल्कि खेतों में लगाए गए धान, सब्जी, आदि की भी जानकारी रहती है |

राजस्थान में आने वाले सभी जिलों और छेत्रों के जमीनों और खेतों की जानकारी इस ऑनलाइन पोर्टल से ली जा सकती है |

राजस्थान जमाबंदी नक़ल/खसरा खतौनी के प्रयोग

राजस्थान भूलेख नक़ल खसरा खतौनी के कई प्रयोग हैं, जो हमने यहाँ दिए हैं |

  • इस सुविधा को लोग राजस्थान में अपने पूर्वजों की जमीनों की जानकारी लेने के लिए भी प्रयोग कर सकते हैं |
  • भूमि पे होने वाले किसी भी प्रकार के काम की जानकारी इस ऑनलाइन पोर्टल के द्वारा ली जा सकती है | फिर चाहे वो जानकारी खेती से संभंधित हो या जमीन पे होने वाले किसी निर्माण से संभंधित हो |
  • इस सुविधा का इस्तेमाल लोन लेने में भी किया जा सकता है क्यूंकि इस पे दी गई जमीन की जानकारीं को आसानी से ऑनलाइन पोर्टल की मदद से डाउनलोड कर सकते हैं |
  • इस सुविधा की वजह से जमीन से संभंधित किसी भी प्रकार की कानूनी कार्यवाही के लिए भी आसानी से सबूत व कागजाद दिए जा सकते हैं |
  • खेतों और जमीनों को बेचने के वक़्त भी यह ऑनलाइन पोर्टल काफी मदद कर सकता है | आप अपनी जमीन की पूरी जानकारी किसी को ऑनलाइन दिखा सकते हैं |

राजस्थान अपना खाता जमाबंदी से होने वाले लाभ

खेतों और जमीनों की जानकारी ऑनलाइन होने से लोगों लो काफी लाभ हुआ है | आइये जानते हैं की राजस्थान अपना खाता जमाबंदी से किस तरह के लाभ हुए हैं |

  • अब लोगों को अपने खेतों और जमीनों की जानकारी लेने के लिए कई दिन तक इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा | ऑनलाइन साडी जानकारी होने की वजह से अब आसानी से लोग जब चाहें तब अपने खेतों के बारे में जान सकते हैं | यही नहीं आप भारत के किसी भी कोने में हों आप अपनी भूमि की पूरी जानकारी देख सकते हैं |
  • इस सुवुधा की वजह से राजस्थान के निवासियों का काफी समय भी बच रहा है | अब उन्हें रोज दफ्तरों में नहीं जाना पड़ता अपने खेतों की जानकारी लेने के लिए | इससे उनकी मेहनत भी बचती है और समय भी |
  • राजस्थान अपना खाता की मदद से अब सरकार अवैध जमीन कब्ज़ों पे भी नज़र रख सकता है | जिससे कोई भी व्यक्ति किसी भी जमीन को अवैध और गैर कानूनी रूप से अपना नहीं बना सकता है | इससे प्रदेश में जमीन और खेतों को लेकर होने वाले दंगो और लड़ाइयों को भी रोका जा सकता है |
  • ऑनलाइन पोर्टल पे इस जानकारी के होने की वजह से लोग किसी भी समय अपने जमीन से संभंधित जानकारी को अपडेट कर सकते हैं | यदि जानकारी में कुछ बदलाव लाना हो तो वो भी ऑनलाइन किया जा सकता है |

राजस्थान अपना खाता जमाबंदी नकल ऑनलाइन की प्रक्रिया

आप सभी से निवेदन है की राजस्थान अपना खाता जमाबंदी नकल की जानकारी लेने के लिए नीचे दी गयी प्रक्रिया का पालन करें |

  1. राजस्थान अपना खाता ऑनलाइन जमाबंदी नकल की जानकारी लेने हेतु सबसे पहले इसकी वेबसाइट को खोलना होगा| उसके लिए इस दी हुई लिंक पर क्लिक करें – www.apnakhata.raj.nic.in |
  2. एक बार जब लिंक खुल जाये तो उस पृष्ठ पे अपना खाता की लिंक ढूंढे और उस पे क्लिक करें |
  3. लिंक पर क्लिक करते ही नया पृष्ठ खुलेगा, उसमें आप को अपना जिला चुनना है | जिला चुनने के बाद अपनी तहसील चुनिए | उसके बाद अपना गाँव चुनिए |
  4. अपना गाँव चुनने के लिए या तो गाँव का नाम जिस अक्षर से शुरू होता है उसपे क्लिक करें या फिर सूची में दिए अपने गाँव के नाम को खोजें |
  5. एक बार जब आपको आपने गाँव का नाम मिल जाये तो उसपे क्लिक करिये |
  6. अब अगले पृष्ठ पे आपको अपने खाता या खसरा का चुनाव करना होगा | उसके बाद काश्तकार का विवरण करना होगा |
  7. अब फॉर्म में आपको अपनी जानकारी लिखनी होगी जिसमे आपन अपने नाम, अपना खाता और खसरा नंबर लिखेंगे | फॉर्म भरते समय किसी प्रकार की गलती न करें, इसलिए फॉर्म बहुत ध्यान से भरें | अगर फॉर्म भरते हुए आपसे कोई गलती होती है तो आप अपनी जमीन व खेतों की जानकारी नहीं ले पाएंगे |
  8. यदि आपने साडी जानकारी फॉर्म में भर दी हो तो सबमिट के बटन पे क्लिक करे और फॉर्म जमा करें |
  9. अब आपको भूमि का सारा विवरण कंप्यूटर की स्क्रीन पर नज़र आएगा |
  10. अपने खाते का विवरण देखने के बाद आप दी हुई जानकारी का प्रिंट भी ले सकते हैं |

राजस्थान अपना खाता जमाबंदी संभंदित जानकारी

यदि ऊपर दी हुई प्रक्रिया से आप अपनी जमीन या भूमि की जानकारी नहीं प्राप्त कर पा रहे हैं तो राजस्थान अपना खाता हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करें | वहां से आपको पूरी सहायता प्राप्त होगी | यदि किसी और तरह की जानकारी चाहते हैं राजस्थान अपना खाता जमाबंदी से संभंधित तो नीचे कमेंट करें और अपने प्रश्न हमें भेजें | आशा करते है की आप सब ऊपर दी हुई जानकारी से संतुष्ट होंगे |

Uttar Pradesh UP Bhulekh, Khasra, Khatoni, Online Verification & Nakal

If you are a citizen of Uttar Pradesh then we have good news for you all. Now, you will be able to see all the relevant information related to your land online. Through an online portal known as UP Bhulekh, you can get this information easily. To know more about this portal and how to use this portal, you can check below. We have shared all the relevant information related to Bhulekh UP Digital Portal below.

उत्तर प्रदेश भूलेख – यूपी भूलेख खसरा खतौनी

उत्तर प्रदेश में रहने वाले सभी नागरिक अब बहुत ही आसानी से अपने खेतों का नक्शा देख पाएंगे | यदि आप भी उत्तर प्रदेश के निवासी हैं तो आप भी यह जानकारी ले सकते हैं | आप सबकी सहूलियत के लिए हम यहाँ पे यह जानकारी दे रहे हैं | अगर आप जानना चाहते हैं की किस प्रकार और कहाँ पे ये नक्शा देखा जा सकता है तो नीचे दी हुई जानकारी पढ़िए |

उत्तर प्रदेश भूलेख खसरा खतौनी की जानकारी

उत्तर प्रदेश भूलेख ऑनलाइन पोर्टल की शुरुवात रेवेनुए कौंसिल ऑफ़ गवर्नमेंट ऑफ़ उत्तर प्रदेश द्वारा की गई है | पहले सभी तरह की जमीनों और खेतों की जानकारी कागजी कार्यवाही द्वारा की जाती थी |

सभी जरुरी जानकारियों को अफसर लिखित रूप में संभाल कर रखते थे | लेकिन अब सरकार की इस आधुनिक योजना की वजह से जानकारी को ऑनलाइन रिकॉर्ड बना के रखा जा सकता है | खेतों सम्बंदित किसी भी तरह की जानकारी लेने के लिए यूपी के नागरिक ऑनलाइन चेक कर सकते हैं |

भूलेख योजना का सही अर्थ

भूलेख का मतलब है किसी भी भूमि अथवा जमीन की लिखित जानकारी | इस योजना का नाम भूलेख इसीलिए रखा गया है क्युकी ‘भू’ शब्द का अर्थ भूमि होता है, और ‘लेख’ शब्द का अर्थ लिखित जानकारी होता है | भारत में अलग-अलग प्रदेशों में इसे अलग नाम दिए गए हैं | जैसे कुछ जगहों पर इसे भूमि का ब्यौरा कहते हैं तो कुछ जगहों पे इसे भूमि अभिलेख कहते हैं |

इस योजना के कई उद्देश्य हैं, जिसमे से मुख्य उद्देश्य है उत्तर प्रदेश निवासियों को उनकी भूमि से संभंदित सही जानकारी प्राप्त करवाना | यह कई तरह से उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए मददगार साबित हुआ है |

भूलेख यूपी योजना की शुरुवात

यूपी रेवेनुए बोर्ड द्वारा शुरू किये गए ऑनलाइन पोर्टल जिसमे की सभी खेतों की जानकारी को व्यवस्तिथ रूप से रखा जा सकता है उसे ही भूलेख पोर्टल कहते हैं | ये सुविधा सभी नकरीको के लिए २ मई २०१६ से ही शुरू हो गई थी. उत्तर प्रदेश के सभी जिलों और सभी तहसीलों में यह सुविधा उपलभ्ध है |

इस सुविधा के माध्यम से उत्तर प्रदेश के सभी नागरिक ऑनलाइन अपने खेतो का नक्शा देख भी सकते हैं और उसको डाउनलोड भी कर सकते हैं | इसके द्वारा नागरिको को अपने खेतो की पूरी जानकारी मिल सकती है वो भी घर बैठे हुए | हम आपको बताएँगे की किस तरह आप घर बैठे हुए ऑनलाइन यह जानकारी देख सकते हैं |

up bhulekh

जानिए उत्तर प्रदेश भू अभिलेख पोर्टल से होने वाले लाभ के बारे में

भूलेख यूपी पोर्टल योजना के एक नहीं बल्कि अनेक लाभ हैं | आप इन लाभों के बारे में यहाँ पढ़ सकते हैं |

  •  इस योजना की वजह से आज लोग आसानी से अपने खेतों की जानकारी ले सकते हैं | उन्हें यह जानकारी लेने के लिए बस गेट नंबर या खसरा नंबर की आव्यशकता है | भूलेख पोर्टल में अपने खसरा नंबर को डालें और अपनी भूमि से संभंदित जानकारी हासिल करें |
  • भूलेख पोर्टल की सहायता से आप कहीं भी बैठे हुए किसी भी समय अपने खेतों की जानकारी ले सकते हैं | ऑनलाइन जानकारी चेक करने में आप को सिर्फ कुछ ही मिनट लगेंगे. इस सुविधा के होने से उत्तर प्रदेश निवासियों को कई दिनों तक अपने खेतों की जानकारी देखने के लिए इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा |
  • इस सुविधा के होने से अब यूपी के लोगों को बार-बार अफसरों के पास भी जाने की जरुरत नहीं पड़ेगी, क्यूंकि वो खुद ही अपनी जानकारी कंप्यूटर पर चेक कर पाएंगे |
  • यह सुविधा सिर्फ भूमि और खेतों का नक्शा देखने के लिए नहीं हैं | बल्कि इस पोर्टल के जरिये यूपी के लोग अपने खेतो और जमीन से संभंदित कोई भी जानकारी देख सकते हैं | जैसे की जमीन किस दिन रजिस्टर हुई से लेकर आज के समय तक जो भी बदलाव हुआ, वो सारा पोर्टल के जरिये देखा जा सकता है |
  • यूपी के नागरिक अब स्वयं अपनी जानकारी इस पोर्टल में सम्पादित भी कर सकते हैं | अपने खेतों से संभंदित किसी भी जानकारी को अपडेट करने के लिए उन्हें बस पोर्टल खोलना होगा और वो बहुत ही आसानी से उसमें अपनी जानकारी भर सकते हैं |
  • भूलेख यूपी पोर्टल की सहायता से सरकार को भी काफी फायदे हुए हैं | सरकार आसानी से अवैध रूप से जमीन पे कब्ज़ा करने वालों पे नज़र रख सकती है | इससे अब कोई भी गैर क़ानूनी रूप से जमीनों पे कब्ज़ा नहीं करेगा |
  • यूपी भूलेख पोर्टल से अब जमीनों से संभंदित जो भी जानकारी है उसे समय से अपडेट करना बहुत आसान हो गया है | इससे न सिर्फ लोगों को फायदा हुआ है बल्कि अफसरों को भी बहुत फायदा हुआ है | अब अफसरों को इस जानकारी को कागजों में लिखने की आवश्यक्ता नहीं है क्यूंकि वो इसे कंप्यूटर में लिख सकते हैं | इससे जमीनों की जानकारी लिखने में होने वाली गलतियों भी कम हो गई हैं |

उत्तर प्रदेश भू अभिलेख  पोर्टल के प्रयोग के लिए निचे दिए गए नियमों का पालन करें

  • इस पोर्टल का प्रयोग करने के लिए आपको सबसे पहले भूलेख यूपी पोर्टल वेबसाइट को खोलना होगा. वेबसाइट का लिंक नीचे दिया गया है | उस लिंक पर क्लिक कर के वेबसाइट खोलें |

up bhulekh nakal

  • भूलेख यूपी पोर्टल खुल जाने के बाद, वेबसाइट पर ‘खतौनी की नकल देखें’ इस लिंक पर क्लिक करिये |
  • लिंक पे क्लिक करने के बाद आपको कॅप्टच कोड दर्ज करने को खा जायेगा | दी गयी जगह में निचे लिखे कॅप्टचा कोड को भरिये | उसके बाद सबमिट पर क्लिक करिये | अगर कॅप्टचा कोड न समझ आ रहा हो तो रिफ्रेश पे क्लिक करिये, और कॅप्टचा कोड लिख कर फिर सबमिट पर क्लिक करिये |

up bhulekh hasra, Khatoni

  • आपके कंप्यूटर की स्क्रीन पर अब एक नया पेज खुलेगा, जिसमे आप को अपने जिले, अपने तहसील, और अपने गाँव का चयन करना होगा | सही जानकारी तभी मिल पायेगी जब आप सही चयन करेंगे |

up bhulekh nakal

  • जब आप अपने तहसील और गाँव का चयन कर लेंगे तो इस तरह से पेज खुलेगा |

up भूलेख

  • अब आपको तीन विकल्प दिखेंगे, जिनमे से आप अपनी सुविधा अनुसार किसी भी विकल्प का चयन करके अपने खेत से संभंदित जानकारी देख सकते हैं |

up bhulekh khasara khatoni nakal

  • सही टैब को चुनिए और अपना विवरण भरिये | उसके बाद दिए गए बॉक्स पर क्लिक करिये |
  • आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पे अब आपके खता खतौनी ऑनलाइन नकल का विवरण दिखाई देगा |

UP Bhulekh Khasra Khatoni Online Verification

भूलेख फॉर्म भरते हुए इन चीज़ों का विशेष ध्यान दें

  1. अब आप अपना खसरा नंबर या जमाबंदी नंबर दर्ज करके जानकारी ले सकते हैं |
  2. जिस जिले में आप रहते हैं उसको चुनिए अथवा उसपे क्लिक करिये | जिला चुनने के बाद अपने तहसील और गाँव को चुनिए |
  3. इस फॉर्म को भरते वक़्त सही से देख लीजिये ताकि इसमें कोई गलती न रहे | यदि आपको अपना गाँव या तहसील चुनने में किसी प्रकार की परेशानी हो रही है, तो आप उसे सर्च(खोज) भी सकते हैं |

भूलेख यूपी ऑनलाइन खसरा खतौनी नकल

हम उम्मीद करते हैं की हमारी दी हुई जानकारी आप के लिए मददगार साबित हुई हो | यदि किसी प्रकार की परेशानी होती है आप को जानकारी देखने में तो आप हमें बता सकते हैं | आप नीचे कमेंट कर सकते हैं | हम पूरी तरह से आपकी मदद करने की कोशिश करेंगे | ऊपर दी हुई जानकारी की मदद से आप अपने खेतों संभंदित जानकारी को प्राप्त कर सकते हैं और साथ ही उसे डाउनलोड भी कर सकते हैं |